Close
All City Editions
Close
Close

You have limited access to jagran epaper
on your device.

More from Front Page

  • मथुरा में तीन साल के बालक का दिनदहाड़े अपहरण
  • ढांचा ढहने के मामले में 31 अगस्त तक सुनवाई पूरी कर फैसला दिया जाए
  • एप से प्रवासी कामगारों को योजनाओं का लाभ, रोजगार
  • बढ़ रही है मरीजों के स्वस्थ होने की रफ्तार
  • लॉकडाउन के कारण देश बड़ी बेरोजगारी के मुहाने पर
  • ट्रेन से कटकर 16 मजदूरों की मौत
  • सीबीएसई की लंबित परीक्षाएं एक जुलाई से
  • दैनिक जागरण फिर बना देश का नं. 1 अखबार
  • वेबसाइट पर पढ़ें

More from Front Page

  • शारीरिक दूरी का पालन करते हुए खुलेंगी दुकानें
  • रिजर्व वायर को मजदूरों की तलाश
  • श्रीनगर से मंगाया 27 टन हाइपोक्लोराइड का नया टैंकर
  • लॉकडाउन में गरीबों तक मदद पहुंचा रहे समाजसेवी
  • सफल हुआ ऑटोमैटिक हैंडवाश सेंटर का ट्रायल

More from Front Page

  • जिले में नहीं बिकेगा पान मसाला, सिगरेट
  • चार नए संक्रमित मिले, सैफई अस्पताल में एक की मौत
  • देसी जमीन पर खिलखिलाई विदेशी फसल
  • बैंक से रुपये निकालकर घर लौटते दंपती को मैजिक ने रौंदा
  • सीमाएं सील, खेतों के रास्ते आ रहे मजदूर
  • खेत में घुसी गाय पर हथियार से वार, हंगामा
  • कोरोना संक्रमित के अंतिम संस्कार पर रार, समझाने के बाद यमुना किनारे कराया
  • तू कितनी अच्छी है ..

More from Front Page

  • मुसलमान को जिम्मेदार इंसान बनाता है रोजा
  • उद्योग विभाग में अब तक 32 इकाइयों ने किया आवेदन
  • कांच उद्योग का पहिया घुमाने के लिए सुहागनगरी तैयार
  • मदर्स डे पर माताएं घर-घर तैयार करेंगी सुरक्षा कवच
  • लॉकडाउन के सन्नाटे में सड़क पर जन्मा लाड़ला
  • मंडी समिति में बनवाए गए गोले
  • कोरोना योद्धाओं का फूल बरसाकर किया सम्मान

More from Front Page

  • रेडक्रास सोसायटी के स्थापना दिवस पर किया रक्तदान
  • दहेज हत्या में सास को किया गिरफ्तार
  • वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ का निधन
  • हाथ में टिकट, मजदूरी से काटे रुपये
  • सुबह चार बजे मंडी पहुंचे नोडल अधिकारी

More from Front Page

  • कोरोना संकट से घिरे लोगों से यह बात छिपी नहीं है कि कौन उनकी मदद कर रहा और कौन राजनीति।
  • उज्‍जवल भविष्य की कामनाबना रहे सामूहिकता का भाव शीर्षक लेख में डॉ. विजय अग्रवाल ने कोरोना वायरस तथा उसके प्रभाव स्वरूप उपजाई जा रही नकारात्मक स्थितियों का आकलन किया है। हमें यह समझना होगा कि मनुष्य सामाजिक प्राणी है। समाज का अंत, उपन्यास का अंत, लेखक की मृत्यु, इतिहास का अंत अथवा ईश्वर की मृत्यु जैसी घोषणाएं निराशा से आक्रांत पाश्चात्य जगत में ही अधिक सामने आई हैं। भारतीय चिंतन तो सृष्टि के प्रत्येक जीव में सामूहिकता की भावना मानता है। सामूहिकता केवल एक भाव अथवा आवश्यकता ही नहीं है, यह एक सकारात्मक ऊर्जा है जिसके सहारे मानवता यहां तक पहुंची है। वैदिक चिंतन से अनुप्राणित भारत के प्रत्येक नागरिक के डीएनए में ही सामूहिकता है। यह जीवन की एक संरचना मात्र नहीं है, अपितु अपने आप में जीवन ही है। ऋग्वेद का अंतिम सूक्त सामूहिकता का आह्वान करता है-‘सं गच्छध्वं सं वदध्वं सं वो मनासि जानताम्।’ कोरोना संकट स्थाई नहीं है। मानवता ने ऐसे अनेक संकट देखे हैं, उन पर विजय पाई है। गिरिधर के शब्दों में कहें तो-‘बीती ताहि बिसार दे, आगे की सुधि लेय’ से प्रेरणा लेकर सुखद एवं उच्च्वल भविष्य की कामना करें।डॉ. वेदप्रकाश, हंसराज कॉलेज, दिल्लीबाहर से लौटने वालों से सतर्कता जरूरीकोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन किया गया है। जिले में इस लॉकडाउन से संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद भी मिली है। अन्य जिलों के मुकाबले अब तक सामने आए मामलों से यह बात सही लगती है। यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या कम है। उनके ठीक होने की रफ्तार भी बेहतर नजर आ रही है। लेकिन बाहर से लौटकर आने वाले प्रवासियों को लेकर सतर्कता बरतने की जरूरत है। चिंता यह है कि कहीं बाहर से लौटने वालों में कोई कोरोना संक्रमित इसके फैलाव का सबब न बन जाए। प्रशासन इनकी स्क्रीनिंग तो कर रहा है, परंतु इसके बाद लगातार इनकी निगरानी भी आवश्यक है। क्योंकि बहुत से मामलों में संक्रमण के लक्षण कई-कई दिनों बाद सामने आते हैं। जो बिना किसी को जानकारी दिए गुपचुप लौट आए हैं। ऐसे लोगों की जानकारी कर उन्हें क्वारंटाइन कराया जाना चाहिए। सुरेश तिवारी, करहल रोड, मैनपुरीरेलवे किराये पर ओछी राजनीति कोविड-19 में मददगार आरोग्य सेतु एप तक का विरोध करने वाली कांग्रेस कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी ओछी राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है। प्रवासी मजदूरों को उनके राज्यों तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने व्यवस्था की है। मजदूरों से किराया लेने के बजाय 85 फीसद केंद्र तथा 15 फीसद राज्य सरकारों को वहन करना तय हुआ था। लेकिन ओछी राजनीति करते हुए कांग्रेस ने रेलवे पर मजदूरों से किराया लेने का आरोप लगाते हुए सारे मजदूरों का किराया पार्टी द्वारा देने का एलान कर दिया। उस पर भी तुर्रा ये कि मजदूरों से किराया कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान, महाराष्ट्र और केरल द्वारा ही वसूला गया। रेलवे ने तत्काल इसका खंडन किया। स्पष्ट किया कि मजदूरों से किराया लेने का कोई निर्देश नहीं दिया गया। कांग्रेस की कलई खुल गई।सुनील कुमार शर्मा, आगरा
  • भारत को नीचा दिखाने वाला सर्वेक्षण
  • असफलता सफलता की ट्यूशन फीस है
  • क्या मैं अपनी तपिश और बढ़ाऊं तो राहत मिलेगी?
  • आर्थिक मुख्यधारा का हिस्सा बनें मजदूर

More from Front Page

More from Front Page

More from Front Page

More from Front Page

  • नव्या के स्नातक होने पर बिग बी को उनमें नजर आईं श्वेता
  • सर्वे कर रही टीम का रजिस्टर फाड़ा अभद्रता की
  • घाटी में तीसरे दिन भी तनाव पथराव में डीएसपी घायल
  • भारतीय टीम के क्वारंटाइन के लिए तैयार: बीसीसीआइ
  • भारतीय महिला अंडर-17 फुटबॉल टीम की फिटनेस बेहतर : कोच
  • द. कोरिया में शुरू हुई फुटबॉल लीग
  • दो रुपये की टिक्की वाला सुख पांच करोड़ की गाड़ी में नहीं मिलता : कपिल शर्मा
  • आधुनिक होंगे वायुसेना, नौसेना व कोस्ट गार्ड के 37 हवाई अड्डे
  • मप्र से आ रहे कामगारों का बागपत बॉर्डर पर हंगामा
  • टूटा था गेस्ट हाउस का दरवाजा रातों में जागकर देते रहे हम पहरा

More from Front Page

  • पहली बार ऑनलाइन होगी एलसैट प्रवेश परीक्षा
  • चीन में बेटे ने मां को जिंदा दफनाया, तीन दिन बाद बचाया गया
  • चीन से कोई बड़ी गलती हुई या फिर वह अक्षम है: ट्रंप
  • दूसरे शुक्रवार को भी सूनी रही जामा मस्जिद
  • पत्रकार के निधन पर मुख्यमंत्री ने जताया शोक
  • शराब की ऑनलाइन बिक्री पर विचार करे सरकार: सुप्रीम कोर्ट
  • कैलास मानसरोवर यात्र हुई आसान चीन सीमा तक सड़क तैयार
  • ममता के लिखे ‘कोरोना गीत’ गाने के आदेश को लेकर हंगामा
  • एनजीटी ने एलजी पॉलीमर्स पर ठोका 50 करोड़ जुर्माना
  • भले मर जाएं पर मुफ्तखोरी हमें मंजूर नहीं..
  • पंजाब में गिरा मिग-29, पायलट सुरक्षित

More from Front Page

  • पाकिस्तान ने जब्त की अफगान तालिबान प्रमुख की संपत्ति
  • इस गांव के खून से समृद्ध एम्स का ब्लड बैंक
  • सामुदायिक प्रसार को रोकने के लिए एसिम्प्टोमैटिक लोगों की होगी जांच
  • कोरोना से फैल रही नफरत की सुनामी पर यूएन ने जताई चिंता
  • मेक्सिको में एक दिन में सबसे ज्यादा 257 मौतें
  • हरिद्वार में गंगा में अस्थि विसर्जन की सशर्त अनुमति
  • अगले सप्ताह तक विदेश में फंसे 15,000 भारतीय स्वदेश लौटेंगे
  • वैदिक मंत्रों से गूंजा व्हाइट हाउस
  • द्वितीय विश्वयुद्ध खत्म होने के 75 साल
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
If text is not readable, Kindly click on download to read newspaper.
ePaper Thumbnail